वक्त पर शायरी

दोस्तों आज हम इस पेज पर वक्त पर शायरी पढ़ने वाले हैं। पिछले पेज पर हमने दीवाना शायरी शेयर की हैं उसे जरूर पढे।

चलिए आज वक्त पर शायरी पढ़िए और दोस्तों के साथ शेयर कीजिए।

वक्त पर शायरी

वक्त पर शायरी

वक्त कहीं टिक कर नहीं रहता।
वक्त की आदत भी आदमी की तरह हैं।

वक्त पर शायरी

एक साल गया, एक साल नया है आने को।
पर वक्त का अब भी होश नहीं दीवाने को।।

वक्त पर शायरी

अगर फुर्सत मिले पानी की लहरों को पढ़ लेना।
हर एक दरिया हज़ारों साल का अफसाना लिखता है।।

वक्त पर शायरी

ना हँसना किसी के बुरे वक्त पे दोस्तों,
ये वक्त है जनाब चेहरे याद रखता है।।

वक्त पर शायरी

उलझ गया था तुम्हारे दुपट्टे का कोना मेरी घड़ी से।।
वक्त तब से जो रुका है तो अब तक रुका ही पड़ा है।।

वक्त पर शायरी

कभी वक्त निकाल के हमसे बातें करके देखना।।
हम भी बहुत जल्दी बातों मे आ जाते है।।

Vakt Images

वक्त इशारा देता रहा और हम इत्तेफाक समझते रहे,
बस यूँही धोके खाते रहे, और इस्तेमाल होते रहे।।

वक्त पर शायरी

कुछ इस कदर खोये हैं तेरे ख्यालो में,
कोई वक्त भी पूछता है तो तेरा नाम बता देते हैं।।

वक्त पर शायरी

कौन डूबेगा किसे पार उतरना है।
फैसला वक्त के दरिया में उतर कर होगा।।

वक्त पर शायरी

हर वक्त दिल को जो सताए ऐसी कमी है तू,
मैं भी ना जानू की इतनी क्यूँ लाजमी है तू।।

Vakt Images

वक्त बर्बाद करने वालों को,
वक्त बर्बाद कर के छोड़ेगा।।

वक्त पर शायरी

जैसे दो मुल्कों को एक सरहद अलग करती हुई,
वक्त ने खत ऐसा खींचा मेरे उस के दरमियाँ।।

Vakt Shayari

चेहरा ओ नाम एक साथ आज न याद आ सके,
वक्त ने किस शबीह को ख्वाब ओ ख्याल कर दिया।।

वक्त पर शायरी

उसकी कदर करने में जरा भी देर मत करना,
जो इस दौर में भी आपको वक्त देता हो।।

Vakt Shayari

कैसे कहूँ कि इस दिल के लिए कितने खास हो तुम,
फासले तो कदमों के हैं पर, हर वक्त दिल के पास हो तुम।।

जरूर पढ़े?
दीवाना शायरीफुर्सत के पल शायरीइंतजार शायरी
Thank You ShayariLove Quotes ImagesThanks Quotes Images

उम्मीद हैं आपको वक्त पर शायरी पसंद आयी होगीं।

वक्त की ये शायरी दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर कीजिए।